BJP ने बनाया बंगाल फतह का प्लान, ‘Special-7 से Mamata के किले में लगाएगी सेंध

भाजपा (BJP) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) को फतह करने के लिए ‘स्पेशल-7’ टीम तैयार की है. पश्चिम बंगाल में कुल 42 लोकसभा सीटे हैं, जिन्हें कवर करने के लिए सात नेताओं को मैदान में उतारा गया है. ये सभी नेता अपनी सीटों पर पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करेंगे.

BJP ने बनाया बंगाल फतह का प्लान, 'Special-7 से Mamata के किले में लगाएगी सेंध

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल (West Bengal) को फतह करने के लिए भाजपा (BJP) ने खास रणनीति तैयार की है. पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सात केंद्रीय नेताओं को ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के गढ़ में सेंध लगाने की जिम्मेदारी सौंपी है. भाजपा की इस ‘स्पेशल-7’ टीम में संजीव बालियान, गजेंद्र शेखावत, अर्जुन मुंडा, मनसुख मंडाविया, केशव मौर्य, प्रधान सिंह पटेल और नरोत्तम मिश्रा शामिल हैं. ये सभी नेता अपने-अपने स्तर पर राज्य में पार्टी को मजबूत करेंगे और ममता बनर्जी की कमजोरियों को तलाशकर उसके अनुरूप रणनीति तैयार करेंगे.

Amit Shah करेंगे बैठक
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah)19-20 दिसंबर को दो दिवसीय यात्रा पर बंगाल आ रहे हैं. इस दौरान वे इन नेताओं के साथ अलग से एक बैठक करेंगे. मिदनापुर से लौटने के बाद अमित शाह 19 दिसंबर की शाम को कोलकाता में सभी नेताओं से मुलाकात करके उनके लिए योजना का खाका तैयार करेंगे.

एक के जिम्मे छह सीटें
केंद्रीय नेताओं में से प्रत्येक को छह लोकसभा सीटों का प्रभार दिया जाएगा. बता दें कि पश्चिम बंगाल में कुल 42 लोकसभा सीटे हैं, जिन्हें कवर करने के लिए सात नेताओं को मैदान में उतारा गया है. ये सभी नेता अपनी सीटों पर पार्टी को मजबूत करने के लिए काम करेंगे. आलाकमान को लगता है कि केंद्रीय नेता स्थानीय नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बेहतर संवाद स्थापित कर सकेंगे, और उनके मोर्चा संभालने से कार्यकर्ताओं के जोश में इजाफा होगा.

 

कल से पहुंचेंगे West Bengal
प्रत्येक केंद्रीय नेता द्वारा बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से लेकर वरिष्ठ नेताओं के साथ बातचीत की जाएगी और उनके फीडबैक के आधार पर रणनीति तैयार होगी. ये सभी सातों नेता कल (18 दिसंबर) से बंगाल पहुंचना शुरू कर देंगे. बिहार विधानसभा और कई राज्यों के उपचुनावों में मिली जीत से भाजपा उत्साहित है. उसे पूरा यकीन है कि इस बार वो ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का किला ध्वस्त करने में कामयाब होगी. हाल में पश्चिम बंगाल में भाजपा नेताओं पर हुए हमले से कहीं न कहीं यह लगता है कि ममता बनर्जी भी भाजपा की बढ़ती ताकत को लेकर चिंतित हैं और उसी चिंता में इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *