देवदत्त पडिक्कल को क्यों इंग्लैंड नहीं भेजा जा रहा? वजह आई सामने

श्रीलंका दौरे के बाद टीम इंडिया के दो खिलाड़ी इंग्लैंड में टेस्ट टीम (India vs England Test Series) से जुड़ने वाले हैं. पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) को इंग्लैंड के खिलाफ 4 अगस्त से शुरू हो रही टेस्ट सीरीज के लिए टीम इंडिया में चुना गया है. इन दोनों खिलाड़ियों को शुभमन गिल, वॉशिंगटन सुंदर और आवेश खान के चोटिल होने के बाद इंग्लैंड भेजने का फैसला किया गया. वैसे इंग्लैंड जाने की रेस में बाएं हाथ के ओपनर देवदत्त पडिक्कल (Devdutt Padikkal) भी थे लेकिन उन्हें मौका नहीं मिला. इसकी वजह भी सामने आ गई है. दरअसल चयनकर्ता चाहते हैं कि देवदत्त पडिक्कल लाल गेंद से एक और घरेलू सीजन खेलें.

देवदत्त पडिक्कल इस वक्त देश के सबसे होनहार बल्लेबाजों में से एक हैं लेकिन ये भी सच है कि उन्होंने अबतक लिस्ट ए और टी20 मैचों में ही रन बनाए हैं. इस बल्लेबाज ने अबतक फर्स्ट क्लास क्रिकेट में खुद को साबित नहीं किया है. बाएं हाथ का ये बल्लेबाज 15 फर्स्ट क्लास मैचों में एक भी शतक नहीं लगा सका है. पडिक्कल ने 15 फर्स्ट क्लास मैचों में महज 34.88 की औसत से 907 रन बनाए हैं. जिसमें उनके बल्ले से 10 अर्धशतक निकले हैं. वहीं लिस्ट ए क्रिकेट में उनका औसत 86 से ज्यादा है और टी20 में भी वो 43 से ज्यादा की औसत से रन बनाते हैं. साफ है इसीलिए चयनकर्ता चाहते हैं कि वो अभी एक और फर्स्ट क्लास सीजन खेलें. वैसे पडिक्कल को श्रीलंका में भी अबतक वनडे और टी20 खेलने का मौका नहीं मिल पाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *