अगले साल से घट जाएगी आपकी सैलरी! लागू होने वाला है नया Wage Rule

देश में अप्रैल 2021 से नया Wage Rule लागू होने वाला् है, जिसके लागू होने के बाद आपके सैलरी स्ट्रक्चर में काफी बदलाव आएगा. समझिए क्या असर पड़ेगा आपकी सैलरी पर.

नई दिल्ली: अगले साल से आपकी सैलरी (Salary) थोड़ी कम आएगी, लेकिन आपका बुढ़ापा संवर जाएगा. अप्रैल 2021 से नया वेतनमान नियम (New Wage Rule) लागू होगा. इससे आपकी हाथ में आने वाली सैलरी (In hand salary), प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) और ग्रेच्युटी (Gratuity) पर फर्क पड़ेगा. क्या फर्क पड़ेगा इसे समझते हैं.

1/4

आपकी सैलरी स्लिप बदल जाएगी

change in salary slip

सरकार ने पिछले ही साल संसद में वेज कोड (Wage Code) पास करवाया था. जो अब अगले वित्त वर्ष से लागू होना है. इसका असर प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाले छोटे बड़े सभी कर्मचारियों और अधिकारियों की सैलरी पर पड़ेगा.

  
2/4

भत्ते कुल सैलरी का 50 परसेंट से ज्यादा नहीं

caps allowances at 50% of total pay

The Economic Times में छपी खबर के मुताबिक नए नियम के हिसाब से कर्मचारियों को मिलने वाले तमाम भत्ते जैसे ग्रेच्युटी, PF वगैरह कुल सैलरी (Total Salary) के 50 परसेंट से ज्यादा नहीं हो सकते हैं. यानि कंपनियों को अप्रैल 2021 से कुल सैलरी में बेसिक सैलरी का हिस्सा 50 परसेंट या फिर इससे ज्यादा रखना होगा. ये नया वेज रूल आने के बाद सैलरी स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव देखने को मिलेगा। इस नए नियम के कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं.

 

  
3/4

नए Wage Rule के फायदे

Benefits of new wage rule

इस नए Wage Rule पर एक्सपर्ट्स बताते हैं कि इसका क्या फायदा होगा, ये तो रिटायरमेंट के बाद ही पता चलेगा. क्योंकि नए नियम के तहत ग्रेच्युटी की रकम बढ़ जाएगी. क्योंकि ग्रेच्युटी बेसिक सैलरी के हिसाब से कैलकुलेट की जाती है, और बेसिक सैलरी बढ़ने से ग्रेच्युटी की रकम भी बढ़ जाएगी. ग्रेच्युटी के अलावा कंपनी और कर्मचारी दोनों का ही PF योगदान भी बढ़ जाएगा. इससे लंबी अवधि में कर्मचारी की बचत भी बढ़ेगी.

  
4/4

नए Wage Rule के नुकसान

Negatives of new wage rule

नए वेतनमान नियम में आपकी Inhand Salary घट जाएगी, इससे सबसे ज्यादा झटका ऊंची सैलरी वाले ऑफिशियल्स को होगा, जिनकी सैलरी में 70-80 परसेंट हिस्सा ही भत्तों का होता है. इससे कंपनियों पर अतिरिक्त बोझ पड़ने की आशंका है. क्योंकि ग्रेच्युटी और PF योगदान पहले से ज्यादा बढ़ जाएगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *